गर्भवती महिलाओं को बड़ी राहत, नौकरी में चयन होते ही होगी नियुक्ति

NEW DELHI: हिमाचल प्रदेश की जयराम सरकार ने गर्भवती महिलाओं को बड़ी राहत दी है। राज्य सरकार ने आज यानी गुरुवार को ये एलान किया कि सरकारी नौकरी में चयन के बाद गर्भवती महिलाओं की तुरंत नियुक्ति भी की जायेगी। हालांकि नियुक्ती के बाद महिलाओं को डिरिवरी के कुछ महीने पहले और बाद में छुट्टी दे दी जाएगी।

 

गर्भवती महिलाओं को मिलने वाली इस छूट में पुलिस विभाग को छोड़कर बाकि सभी सरकारी संस्थाओं को शामिल किया गया है। सरकार ने यह फैसला इस बात को ध्यान में रखते हुए लिया है कि महिलाएं देर से नियुक्ति पाने की वजह से वरिष्ठता में अपने साथ के लोगों से पिछड़ जाती थीं। बता दें कि अब तक ऐसी महिलाओं को डिलिवरी के एक साल बाद नियुक्ति दी जाती थी जिस वजह से वह अपने साथी कर्मचारियों से पीछे रह जाती थीं।

 

मुख्य सचिव बीके अग्रवाल के मुताबिक यह प्रस्ताव मंत्रिमंडल में पारित कर दिया गया है, जल्द ही स्वास्थ्य विभाग और अन्य सरकारी महकमों को यह आदेश जारी कर दिया जाएगा। मालूम हो कि सरकारी नौकरी के लिए परिक्षा उत्तीर्ण करने के 10 से 15 दिन के भीतर ही सभी व्यक्तियों को ड्यूटी ज्वाइन करने का समय दिया जाता है। वहीं गर्भवती महिलाओं को परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद भी मेडिकल बोर्ड में नौकरी के लिए अनफिट बताया जाता था।

 

मेडिकल बोर्ड द्वारा अनफिट बताए जाने के बाद गर्भवती महिलाओं को नियुक्ति नहीं दी जाती थी जिससे उनकी सारी मेहनत बेकार हो जाती थी। यही नहीं, डिलिवरी के 6 महीने बाद इन महिलाओं को मेडिकल बोर्ड से फिटनेस का प्रमाण दिया जाता था जिस वजह से वह वरिष्ठता में पिछड़ जाती थीं। अब सरकार ने ऐसी महिलाओं को बड़ी राहत देते हुए इस नियम को खत्म कर दिया है। अब गर्भवती महिलाएं भी परिक्षा उत्तीर्ण करने के बाद नौकरी ज्वाइन कर सकती हैं।