कबड्डी टीम को ओलिम्पिक भेजने की औपचारिकता पुरी

NEW DELHI: बैंगलुरू कबड्डी के ओलिम्पिक में जाने का सपना जल्द ही पुरा हो सकता हैं। प्रतिष्ठित अर्जुन अवार्ड से सम्मानित कबड्डी के 13 खिलाड़ियों तथा अन्तरराष्ट्रीय स्तर तक कबड्डी खेल के भारत का नाम रौशन करने वाले 40 खिलाड़ियों ने इस सपने को हकीकत मे बदलने के लिए कमर कस ली हैं। इसके लिए बाकायदा कबड्डी खेलने वाले 57 देशों की इन्टरनैशनल कबड्डी कांफ्रेंस भी मार्च 2018 में बैगलुरू में आयोजित हुई थी।

 

कांफ्रेंस में कबड्डी खेलने वाले 42 देशों की न्यूनतम सहमति की शर्त को पुरा करने के बाद अब इन्टरनेशनल स्पोटर्स फेडरेशने की गवर्निंग कमेटी के पास बाकी जरूरी औपचारिकता भी पुरी कर ली गई हैं। न्यु कबड्डी फेडरेशन के महासचिव व 13 साल तक कर्नाटक व देश के लिए कबड्डी खेल चुके एम.वी. प्रसाद ने इस बारे जानकारी देते हुए मई में फेडरेशन के द्वारा आयोजित की जा रहीं कबड्डी लीग में 16 टीमों के भाग लेने की बात कही।

 

प्रसाद ने बताया की 8 पुरुष व 8 महिला वर्ग की टीमों का चुनाव लीग के लिए किया जा रहा हैं। लीग के होने वाले लाभ का 20 फीसदी हिस्सा भी खिलाड़ियों को दिया जाएगा। लीग के लिए खिलाड़ियों के चयन की आज प्रसाद ने कबड्डी खेल चुके पूर्व खिलाड़ियों की मौजूदगी मे नारियल तोड़ कर शुरुआत की।

 

भारत के सभी प्रांतों के लगभग 400 खिलाड़ी अन्तिम चयन के लिए जयप्रकाश नारायण राष्ट्रीय युवा क्रीड़ा केंद्र, विदिया नगर, बैंगलुरू में पहुँचे थे। यहां बता दें कि इन्हीं चयनित खिलाड़ियों में से 2 टीम, पुरुष व महिला खिलाड़ियों की मलेशिया में होने वाले वर्ल्ड कप के लिए भी भेजी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *