गर्भवती महिलाओं को व्यायाम 50 मिनट घटा देता है प्रसव पीड़ा

यह अध्ययन टेक्निकल यूनिवर्सिटी ऑफ मैडरिड के शोधकर्ताओं ने कहा कि जो महिलाएं गर्भावस्था के दौरान नियमित व्यायाम करती हैं, उन्हें प्रसव पीड़ा अधिक देर तक नहीं सहनी पड़ती है। इस अध्ययन के लिए विशेषज्ञों ने 508 महिलाओं के आंकड़ों का पहली तिमाही से ही अध्ययन किया। इनमें से आधी महिलाओं को हर हफ्ते तीन घंटे तक व्यायाम करने की सलाह दी गई। अन्य आधी महिलाओं को एंटीनेटल परामर्श दिया गया।

विशेषज्ञों ने बच्चे के जन्म के समय प्रसव पीड़ा की समयावधि और नियमित व्यायाम में संबंध देखा। विशेषज्ञों ने कहा कि नियमित व्यायाम करने वाली महिलाओं की मांसपेशियां प्रसव की प्रक्रिया में पूरा योगदान देने में सक्षम होती हैं। उन्होंने कहा कि इस अध्ययन के नतीजों से गर्भवती महिलाओं को नियमित व्यायम के लिए प्रेरित किया जा सकेगा। यह अध्ययन न्यू साइंटिस्ट पत्रिका में प्रकाशित हो चुका है।

विशेषज्ञों का कहना है कि अब यह सोच पुरानी हो चुकी है कि गर्भावस्था के दौरान फिटनेस पर ध्यान देना खतरनाक होता है। अब हम जानते हैं कि व्यायाम करने से प्रसव पीड़ा के दौरान जीवन से संकट को दूर रखने के लिए व्यायाम सबसे अच्छा रास्ता होता है।

2 thoughts on “गर्भवती महिलाओं को व्यायाम 50 मिनट घटा देता है प्रसव पीड़ा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *