PM : केसरिया रंग में रंग गए आज सारे रंग

NEW DELHI.  तीन राज्यों के विधानसभा चुनावों में भाजपा को मिली शानदार सफलता से कार्यकर्ता ही नहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी गदगद हैं। प्रधानमंत्री अपनी खुशी का इजहार भाजपा मुख्यालय आकर किया, जहां पार्टी कार्यकर्ता उनका इंतजार कर रहे थे। इस मौके पर प्रधानमंत्री ने चुनाव नतीजों का श्रेय पार्टी अध्यक्ष अमित शाह की टी और भाजपा कार्यकर्ताओं को दिया है। साथ ही कहा कि हमारे कार्यकर्ताओं के खून की एक भी बूंद बेकार नहीं जाएगी। त्रिपुरा में बीजेपी के कई कार्यकर्ताओं ने शहादत दी है। उन्होंने कहा कि राजनीतिक विचारधारा के कारण कई कार्यकर्ताओं को मौत के घाट उतार दिया गया है। भय और भ्रम, इन दो शस्त्रों को ले करके माओवादी विचारों और लेफ्टिस्ट पार्टियों ने जुल्म किए हैं।
केसरिया रंग में रंग गए आज सारे रंग : मोदी 
–सूरज का उदय होता है तो उसका रंग होता है केसरिया 
–नो वन से वॉन की यात्रा, शून्य से शिखर तक की यात्रा : पीएम मोदी 
–तीन राज्यों के चुनावी नतीजों पर प्रधानमंत्री गदगद 
–भय और भ्रम, इन दो शस्त्रों को ले कर लेफ्टिस्ट पार्टियों ने जुल्म किए 
प्रधानमंत्री ने कहा कि यह लोकतंत्र की ताकत है कि गरीब और अनपढ़ मतदाता ने भी इस चोट का जवाब वोट से दिया है। लेफ्ट पर हमला बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा कि जय और पराजय लोकतंत्र का हिस्सा है। अगर रगों में लोकतंत्र है तो पराजय को भी स्वीकार किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि 2014 से मैं देख रहा हूं कि लोकतंत्र की बात करने वाले पराजय को बड़े दिल के साथ स्वीकार नहीं कर पा रहे हैं। उन्होंने कहा कि हिन्दुस्तान के राजनीतिक विश्लेषकों को यह समझना होगा कि नो वन से वॉन  की यात्रा, शून्य से शिखर तक की यात्रा है।
 प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि सूर्य जब ढलता है तब लाल रंग का होता है, और जब सूर्योदय होता है उस समय केसरिया रंग का होता है। कल देश होली पर अनेक रंगों से रंगा हुआ था, लेकिन आज सारे रंग केसरिया रंग में रंग गए हैं।  बता दें कि शनिवार को पार्टी मुख्यालय में संबोधन के दौरान प्रधानमंत्री उन पार्टी कार्यकर्ताओं को यादकर भावुक हो गए, जिन्होंने राजनीतिक हमलों में अपनी जान गंवा दी। कांग्रेस और लेफ्ट पर हमला बोलते हुए मोदी ने मारे गए कार्यकर्ताओं को शहीद कहा और उनकी याद में 2 मिनट का मौन रखा। इस दौरान सभी कार्यकर्ता और नेता खड़े होकर मौन रहे।
नार्थ ईस्ट का कोना मजबूत 
 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि वास्तु शास्त्र विशेषज्ञों का मानना है कि इमारत की रचना जब होती है तो उसमें जो नॉर्थ ईस्ट का कोना होता है उसे सबसे महत्वपूर्ण माना जाता है। इसलिए निर्माण के समय इस बात का पूरा ध्यान रखा जाता है। अब नॉर्थ ईस्ट का कोना भी मजबूत हो गया है और मुझे इस बात की खुशी है। जब नार्थ-ईस्ट ठीक होगा तो सबकुछ अपने आप ठीक हो जाएगा।
त्रिपुरा में बाल सेना ने किया कमाल 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि त्रिपुरा की टीम सबसे छोटी आयु की टीम है। त्रिपुरा में कुछ उम्मीदवार महज 25 साल के थे, लेकिन राजनीतिक जीवन की इस बाल सेना ने बड़ा कमाल कर दिखाया। कुछ उम्मीदवार तो ऐसे थे कि डर लग रहा था कि 25 की आयु तक पहुंचे न हो। इसका डर था कि कहीं इनकी उम्मीदवारी खत्म न हो जाए। देखने में इतने छोटे कार्यकर्ता थे जो लग रहा था कि अभी कॉलेज में ही गए थे। पीएम ने अमित शाह को बीजेपी की विजय यात्रा का शिल्पी बताया। साथ ही कहा कि यह साबित हो गया है कि जनता से जुड़कर चुनाव जीता जा सकता है। संगठन की शक्ति जरूरी है, टीवी पर चमकने से नेतृत्व नहीं होता।
कांग्रेस पार्टी पर हमला, कहा- कद हुआ छोटा 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस बीच कांग्रेस पर भी निशाना साधा और कहा कि कांग्रेस का पार्टी का कद इतना छोटा पहले कभी नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि कांग्रेस इतनी कमजोर कभी नहीं थी, जितनी अब है। ऐसे नेता हैं, जिनका पद तो बढ़ गया है, पर कद घट गया है। कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि कुछ पद में बड़े होते जाते हैं और कद में छोटे होते जाते हैं। उन्होंने साफ कहा कि कांग्रेस पार्टी का कद इतना छोटा कभी नहीं हुआ। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि बीजेपी को सतर्क रहना होगा कि कांग्रेस कल्चर इधर-उधर से न घुस जाए। गोवा दौरे का जिक्र करते हुए मोदी ने बताया कि उन्होंने सीएम नारायणसामी से कहा था कि जून के बाद कांग्रेस के पास आप ही दिखाने के लिए होंगे कि पार्टी भी सत्ता में है या रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *