सरकारी शौचालय बना आदिवासी परिवार का बेडरूम

NEW DELHI. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा देशभर में शुरू की गई आम लोगों की अनगिनत योजनाओं के बावजूद देश के कुछ हिस्सों में गरीबी लोगों को तोड रही है। भारत में गरीबी का स्तर दिखाने वाली एक तस्वीर ओडिशा से वायरल हो रही है। यहां केओनझर जिले में एक बेघर आदिवासी परिवार स्वच्छ भारत के अंतर्गत बनाए गए शौचालय में रहने पर मजबूर है। इछिंदा गांव के दक्तर नायक ओडिशा माइनिंग कारपोरेशन द्वारा बनवाये गए शौचालय में रह रहे हैं क्योंकि उनके पास कोई पक्का मकान नहीं है।

यह खबर ओडिशा के एक अखबार संबाद की है और वहीं से हमें ये तस्वीरें भी मिली हैं। फिलहाल हम इस खबर की पुष्टि नहीं कर सकते। एक तस्वीर वायरल हो रही है जिसमें नायक शौचालय के दरवाजे के पास बैठे हुए हैं। वहीं दूसरी तरफ शौचालय के ठीक बगल में नायक की बेटी निशा सो रही है।

दक्तर नायक एक दिहाड़ी मजदूर हैं। ये और इनका परिवार बेहद बुरी परिस्थितियों में रह रहे हैं। कभी ये किसी के जर्जर मकान में रहते तो कभी पॉलिथीन के नीचे। बारिश के दिनों में इनके लिए कई परेशानियां खड़ी हो गईं। नायक ने अखबार को बताया कि पिछले कुछ दिनों से वो और उनका परिवार इस शौचालय के अंदर ही सो रहे हैं। उनकी पत्नी नंदिनी बाहर खाना बनाती हैं और शौच के लिए उनका परिवार जंगल में जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *