बुर्का और हिजाब पहनने पर लगेगा 1 लाख का जुर्माना

 

NEW DELHI. डेनमार्क की सरकार देश में महिलाओं के बुर्का पहनने पर रोक लगाने की तैयारी कर रही है। सरकार सार्वजनिक स्थानों पर महिलाओं के ऐसे पहनावे पर रोक लगाएगी, जिससे चेहरा पूरी तरह ढक जाता हो। इंडिपेंडेंट की रिपोर्ट के मुताबिक सरकार का कहना है कि हम सार्वजनिक स्थानों पर बुर्का या हिजाब पहनने पर रोक लगाने का प्रस्ताव लाने पर विचार कर रहे हैं। पब्लिक प्लेस पर ऐसा करने वालों को जुर्माना देना होगा। प्रस्ताव के मुताबिक नियम का उल्लंघन करने पर 120 पाउंड यानी करीब 9,545 रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा। यदि एक बार से अधिक ऐसा करते कोई पाया जाता है तो उस पर यह फाइन 1 लाख रुपये तक हो सकता है। डेनमार्क के जस्टिस मिनिस्टर सोरेन पापे पाउसेन ने कहा, ‘सार्वजनिक स्थान पर लोगों से मुलाकात करते हुए चेहरा ढंक कर रखना डेनिश समाज के मूल्यों के विपरीत है।’

उन्होंने कहा, ‘इस बैन के जरिए यह साबित करना चाहते हैं कि हम ऐसा समाज हैं, जो एक-दूसरे भरोसा करता है और मुलाकात के वक्त फेस-टु-फेस बात करता है।’ सरकार के इस प्रस्ताव को सत्ताधारी गठबंधन में शामिल तीनों दलों का समर्थन हासिल है। हालांकि डेनमार्क में मुस्लिम आबादी काफी कम है और इसका बैन का असर करीब 200 महिलाओं पर ही पड़ेगा।

यूरोपीय देशों ने लगाया था बुर्के पर बैन
फ्रांस, बेल्जियम, नीदरलैंड, बुल्गारिया और जर्मनी ऐसे देश हैं, जो पहले ही बुर्के पर बैन लगा चुके हैं। 2011 में बेल्जियम में इस बैन को कानूनी चुनौती भी दी गई थी, लेकिन यूरोपियन कोर्ट ऑफ ह्यूमन राइट्स ने इसे यह कहते हुए बरकरार रखा था कि बेल्जियम को बैन लगाने का अधिकार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *